भूतिया कुर्सी की कहानी
भूतिया कुर्सी की कहानी

भूतिया कुर्सी की कहानी

भूतिया कुर्सी की कहानी भूतिया कुर्सी की कहानी पुराने समय में, रामनगर नाम का एक गाँव था। उस गाँव के पास एक घना जंगल था। जिसमें राजू नाम का एक…

0 Comments
पोरबंदर चौपाटी पर घूमते खूंखार खविस का आतंक
पोरबंदर चौपाटी पर घूमते खूंखार खविस का आतंक

पोरबंदर चौपाटी पर घूमते खूंखार खविस का आतंक

पोरबंदर चौपाटी पर घूमते खूंखार खविस का आतंक पोरबंदर चौपाटी पर घूमते खूंखार खविस का आतंक मेरा नाम संदीप वाघेला है। मैं एक नौसेना अधिकारी हूं। यह लगभग 2 साल…

0 Comments
अकबर का तोता
अकबर का तोता

अकबर का तोता

अकबर का तोता अकबर का तोता सम्राट अकबर को पड़ोसी देश के एक राजा ने एक तोता उपहार में दिया था। यह तोता लोगों की बातों पर प्रतिक्रिया देता था…

0 Comments
दादी माँ की कहानी : मुन्ना हाथी
दादा माँ की कहानी : मुन्ना हाथी

दादी माँ की कहानी : मुन्ना हाथी

दादा माँ की कहानी : मुन्ना हाथी दादी माँ की कहानी : मुन्ना हाथी मुन्ना हाथी का कारोबार पूरे जंगल में फैला हुआ था। सभी पेड़ों और पौधों पर उनका…

0 Comments
उल्लू और भूतों के सरदार का सपना
उल्लू और भूतों के सरदार का सपना

उल्लू और भूतों के सरदार का सपना

उल्लू और भूतों के सरदार का सपना उल्लू और भूतों के सरदार का सपना जंगल में एक पुराना बरगद था। इस बरगद पर चिल्लू उल्लू का घर था। पेड़ के…

0 Comments
इनाम में मिला राज्य
इनाम में मिला राज्य

इनाम में मिला राज्य

इनाम में मिला राज्य इनाम में मिला राज्य घटना सोलहवीं शताब्दी की है। बिहार में सिंहभूम के भुइयां जाति के लोग कई तरह के घोड़े पालते थे। राजा न केवल…

0 Comments
मेहनत का फल
मेहनत का फल

मेहनत का फल

मेहनत का फल मेहनत का फल दो दोस्त नकुल और सोहन एक गाँव में रहते थे। नकुल बहुत धार्मिक थे और भगवान को बहुत मानते थे। जबकि सोहन बहुत मेहनती…

0 Comments
सियार की मूर्खता
सियार की मूर्खता

सियार की मूर्खता

सियार की मूर्खता सियार की मूर्खता तिल्दा जंगल के जानवर शेर के आतंक से परेशान थे। वह रोज किसी न किसी जानवर को मारकर उसकी भूख मिटाता था। एक दिन…

0 Comments
दोस्त-कोरोना से क्या डरना?
दोस्त-कोरोना से क्या डरना?

दोस्त-कोरोना से क्या डरना?

दोस्त-कोरोना से क्या डरना? दोस्त-कोरोना से क्या डरना? राम और अमर बचपन के बहुत अच्छे दोस्त हैं। दोनों अब दसवीं कक्षा के छात्र हैं। वे एक दूसरे के साथ सब…

0 Comments
तोड़ना आसान है – जोड़ना मुश्‍किल
तोड़ना आसान है-जोड़ना मुश्‍किल(बु्द्ध की श‍िक्षा)

तोड़ना आसान है – जोड़ना मुश्‍किल

तोड़ना आसान है-जोड़ना मुश्‍किल(बु्द्ध की श‍िक्षा) तोड़ना आसान है - जोड़ना मुश्‍किल पूरे विश्व में युद्ध, संघर्ष और विध्वंस जारी हैं। लोगों के दिलों से नफरत निकालना और उनके दिलों…

0 Comments
जब गुरु हरगोविंद सिंह जी ने पाइंदे खां को धूल चटाई
जब गुरु हरगोविंद सिंह जी ने पाइंदे खां को धूल चटाई

जब गुरु हरगोविंद सिंह जी ने पाइंदे खां को धूल चटाई

जब गुरु हरगोविंद सिंह जी ने पाइंदे खां को धूल चटाई जब गुरु हरगोविंद सिंह जी ने पाइंदे खां को धूल चटाई गुरु हरगोबिंद सिंह जी को अपने साथी पेन्दे…

0 Comments
योग्यता का सम्मान
योग्यता का सम्मान

योग्यता का सम्मान

योग्यता का सम्मान योग्यता का सम्मान प्राचीन समय की बात है। उस समय, रिपुदमन नामक एक राजा ने मगध पर शासन किया था। उन्होंने अपने वैज्ञानिकों को पूरा सम्मान दिया…

0 Comments